Lagi Aaj Sawan Ki Phir Wo Jhadi Hai / लगी आज सावन की फिर वो झड़ी है Song Lyrics.

  • Song  – Lagi aaj sawan ki
  • Starring – Rishi kapoor, Sridevi, Vinod Khanna
  • Director – Yash Chopra
  • Release date – 14 September 1989
  • Singers – Suresh Wadkar, Anupma Deshpande
  • Lyrics – Anand Bakshi
  • Music –  Shiv Hari
Lagi aaj sawan ki phir wo jhadi hai Lyrics in hindi

Cast :-

Actor / Actress Role
Rishi kapoor Rohit Gupta
Sridevi Chandni Mathur
Vinod Khanna Lalit Khanna
Waheeda Rehman Mrs. Gupta

लगी आज सावन की फिर वो झड़ी है हिंदी लिरिक्स.

लगी आज सावन की

फिर वो झड़ी है

लगी आज सावन की

फिर वो झड़ी है

वही आग सीने में

फिर जल पड़ी है

लगी आज सावन की

फिर वो झड़ी है

कुछ ऐसे ही दिन थे

वो जब हम मिले थे

चमन में नहीं

फूल दिल में खिले थे

वही तो है मौसम

मगर रुत नहीं वो

मेरे साथ बरसात

भी रो पड़ी है

लगी आज सावन की

फिर वो झड़ी है

लगी आज सावन की

फिर वो झड़ी है

कोई काश दिल पे

ज़रा हाथ रख दे

मेरे दिल के टुकड़ों को

एक साथ रख दें

मगर ये है ख्वाबों

ख्यालों की बातें

कभी टूट कर चीज़

कोई जुडी है

लगी आज सावन की

फिर वो झड़ी है

लगी आज सावन की

फिर वो झड़ी है

वही आग सीने में

फिर जल पड़ी है

लगी आज सावन की

फिर वो झड़ी है


Lagi Aaj Sawan Ki Phir Wo Jhadi Hai Lyrics in English

Lagi aaj sawan ki

Phir wo jhadi hain

Lagi aaj sawan ki

Phir wo jhadi hain

Wahi aag seene mein

Phir jal padi hain

Lagi aaj sawan ki

Phir wo jhadi hain

Kuch aise hi din they

Woh jab hum mile they

Chaman mein nahi

Phool dil mein khile they

Wohi to hain mausam

Magar rut nahi woh

Mere saath barsaat

Bhi ro padi hain

Lagi aaj sawan ki

Phir wo jhadi hain

Lagi aaj sawan ki

Phir wo jhadi hain

Koi kash dil pe

Zara hath rakh de

Mere dil ke tukdon Ko

Ek saath rakh de

Magar ye hain khwabon

Khayalon ki baatien

Kabhi toot kar cheez

Koi judi hain

Lagi aaj sawan ki

Phir wo jhadi hain

Lagi aaj sawan ki

Phir wo jhadi hain

Wahi aag seene mein

Phir jal padi hain

Lagi aaj sawan ki

Phir wo jhadi hain


More Songs : tujhse naraz nahi zindagi lyrics

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *